About Us

Pankhuri is a women’s only community for members to socialize, explore and upskill through live interactive courses, expert chat, and interest-based clubs. Our short video app opens up endless possibilities for women with interests like fashion, beauty, grooming and lifestyle.

We are dedicated to all things beauty, inside and out. From hair and makeup to health and wellness, Pankhuri takes a fresh, no-nonsense approach to help you feel and look your absolute best. We help women find confidence, community and joy through beauty. It is a safe and empowering space that aims to help them lead their best lives. We’re driven by a commitment to improving women’s lives by covering daily breakthroughs in beauty and health, with a focus on story-telling and original reporting.

We are an ambitious, creative and committed community, backed by some of the best investors in the country. We are female-founded and led, and believe passionately in creating an inclusive and welcoming ecosystem for everyone.

 ये 10 हॉबीज़ स्ट्रेस दूर करने में हेल्प करेंगी

बच्चों का स्कूल, टिफिन की तैयारी की टेंशन, पढ़ाई का प्रेशर, ऑफिस में बॉस से कहासुनी, हसबैंड के साथ रिस्पॉन्सिबिलिटी शेयर करने का स्ट्रेस, फैमिली और रिलेटिव्स को खुश रखने की कोशिश और तो और कभी-कभार खुद के हेल्थ से जुड़ी दिक्कतें… अब सही बताइए, आप भी भी कई चीज़ों का स्ट्रेस और एंग्जाइटी होती है। जी हाँ, भले ही उसका लेवल कम हो, लेकिन यह हम सभी की लाइफ का पार्ट बन गया है। अरे! और तो मेरा बेटा 1st स्टैंडर्ड में था और उसके एग्ज़ाम टाइम पर मुझे तो ऐसा स्ट्रेस था जैसे कि वह 10th स्टैंडर्ड में है। बिल्कुल! कई बार हम चीज़ों को बहुत बड़ा करके भी बेमतलब की टेंशन ले लेते हैं, लेकिन क्या करें आदत से मजबूत हैं।

अब अगर आपने स्ट्रेस लेने की आदत डाल ली हैं, तो आपको यह आदत भी डाल लेना चाहिए कि इसे कम कैसे किया जाए या इससे छुटकारा कैसे पाया जाए।

देखिए! यूँ तो ढेरों ऑप्शन होंगे स्ट्रेस रिलीव करने के लेकिन एक इफेक्टिव तरीका है किसी हॉबी को अपनाना। नहीं..नहीं!! आपको ये कहने की ज़रूरत नहीं है कि इन “हॉबी-शॉबी” का टाइम नहीं है हमारे पास!! जैसे आपके पास स्ट्रेस लेने के लिए भरपूर टाइम है ना, तो इसे दूर करने या इसे मैनेज करने के लिए कुछ टाइम तो निकाल ही सकते हैं।

af61BfPl6vTpF 1KbITA7Bzf4lw4Yd4Edg53VbsL6BwSSIQE38qfGGP6G38AMnk7B5aF

चलिए यहाँ मैं ऐसी 10 हॉबीज़ बता रही हूँ जो कि आप अपना सकते हैं और स्ट्रेस को ये कहकर चिढ़ा सकते हैं कि “लेट्स प्ले विद मी”। हा.. हा..हा..

ये रहीं 10 हॉबीज़…

1. गार्डनिंग

3gqs9CqKj9tRob2f1sP5NmEsebMhUn1BeoU v69FQK8hGbLxLAQGfuXkQcqHZ3glU eVuh9zQc9F35eckIoMyYNnCkkatuGLmJDop oVG5sV78P44qCAVGWvI8qJNYBgLqWpTFglh0UVzGy3g

अब ये मत कहिएगा कि ये भी कोई हॉबी हुई भला। ग्रीनरी के बीच रहना स्ट्रेस दूर करने का सबसे अच्छा तरीका है और अगर आप खुद खूबसूरत फूलों को उगाने के लिए काम करेंगे, हरियाली बढ़ाने के लिए अपने हाथों को मिट्टी में डालेंगे, तो जो सुकून मिलेगा ना..उसकी कोई होड़ नहीं है। आप लो-मेंटेनेंस प्लांट्स के साथ शुरू कर सकते हैं। अगर आपके पास आउटडोर स्पेस गार्डनिंग के लिए नहीं है, तो आप पॉट्स या स्मॉल गार्डन बेड्स से इंडोर गार्डनिंग भी कर सकते हैं।

2. ड्राइंग और कलरिंग

pz9uTE3Jo4yHFRwbhoJ0QUmk1jOxAJW0WRpKawcFM8s9tH49D38HUAiuIHgLfruGzc1CeOZirgmjNcbhqghvFKAbaFx6eZamaSzcqrmrZlBf qYCZLociGV962phTpcwyinoPiMasBHYgIUitw

अगर आपको लगता है कि यह तो बच्चों की हॉबीज़ हैं, तो प्लीज़ ये माइंड सेट बदल लीजिए। ड्राइंग इमोशन को प्रोसेस करने का और स्ट्रेस को कम करने का अच्छा तरीका है। जब आपके अंदर से क्रिएटिविटी निकलने लगेगी ना, तो आप खुद पर फोकस करेंगे और सारी टेंशन भूल जाएंगे। मार्केट में कई डिज़ाइन्स और पैटर्न के साथ एडल्ट कलरिंग बुक्स अवेलेबल है।

3. निटिंग

9hhuWxBpOfrQ5RGLPU6t dStzNfE979GrpxWe aHQHYgkO0fo0Iq3CuSx24edVCub1tVWv79k

अगर आपको ये ओल्ड-फैशन्ड लग रहा है, तो होल्ड कीजिए!! ये केवल दादी-नानी के करने काम नहीं है..एक बार करके तो देखिए क्या स्ट्रेस फ्री करेंगे!!! निटिंग वाकई शानदार स्ट्रेस रिलीवर है। अगर आप स्ट्रेस फील कर रहे हैं तो यह नर्वसनेस कम करेगा। अगर बिगिनर है, तो निटिंग स्टार्टर किट ले सकती है। आप ऑनलाइन वीडियो से भी सीख सकते हैं।

4. फोटोग्राफी

SEHJ15UBYvKSOszFtB2Hlr1O5aYJjlfG1EHRm6j6NE27YHbJss83Cw vgz42V686ytNC yvoami69SKcODZpAmULksxhEpWwLO5LyRGP5kx8mPfvd2BHH4075HTrgkS

फोटोग्राफी एक और फैंटास्टिक हॉबी है जो आपको ज़रूर ट्राई करना चाहिए। अगर किसी कारण आपने अपनी यह हॉबी से दूरी बना ली हैं, तो एक बार फिर उसे करने का टाइम आ गया है। घर पर भी फोटोज़ लेना फन से कम नहीं है। यह आपका मूड बूस्ट करेगा और हाँ, जब आपके क्लिक किए फोटोज़ की तारीफ करेंगे तो कितना अच्छा फील होगा!

5. डांसिंग

jRN64f6fl02HP ZYuioKcI9OxMCTXWcxI4pU7poqLhiiQupyMukm8preQn6bxJWwX56gH9UgISGGKujTX 3HaKC oroy RGUHloVBypu3nxFAkMVxEULqE7 h6Ddjr1cKDQfCDWz165u1ecS2Q

कितनी मज़ेदार हॉबी है ना ये…मेरी भी..!! एनीटाइम!! अपना रूम बंद करिए..एलेक्सा को डांसिंग नंबर लगाने के लिए कहिए और शुरू हो जाइए। कभी कभार इस हॉबी को बच्चों के साथ भी करें, एंजॉयमेंट डबल हो जाएगा।

6. म्यूज़िक 

lzQ9yNvXZ9pPMMpd448k3M07elelSl7NcXePYErXtGLl y4CBLPukArz7F5dColb5sn9IJ0xlcjZs0lp1xSJ Rl6fbFSmT2dj22eew7nIr sYfDDYhCevDpS5z8XRZ5j59Gt2TP0yAEM8 7qKQ

हाँ जी..ये भी बिल्कुल आपकी हॉबी हो सकती है। वैसे भी म्यूज़िक को स्ट्रेस बस्टर ही माना जाता है। अब इसे एक अलग लेवल पर ले जाएं। अपनी प्लेलिस्ट बनाएं। अपने फेवरेट आर्टिस्ट्स के गाने एक्सप्लोर करें।

7. रीडिंग

qlKmipJyCc Fe1pkdyo aqE45uOC1Vmo0WgisEeP9wkTEK4 noV42jHJ6qm5 go0gDCMu5hJO

बस अपने फेवरेट काउच पर बैठे, रिलेक्स करें और फेवरेट बुक रीड करना शुरू करें। रीडिंग आपको मेंटली और फिज़िकली रिलेक्स करेगा। आप नॉवेल्स या सेल्फ-हेल्प बुक्स एंजॉय कर सकते हैं।

8. कुकिंग

duvkTnp8bfDI3K9X7Vo2j

यहां मैं डेली रूटीन में जो आप कुकिंग करती हैं, उसकी बात नहीं कर रही हूं। अपने बोरडम, एंग्जाइटी और स्ट्रेस को दूर करने के लिए कुकिंग में नए-नए एक्सपीरिमेंट कीजिए। आप बेकिंग में हाथ आजमा सकते हैं और ब्राउनीज़ और कुकीज़ जैसे डिलिशियस ट्रीट्स बनाना शुरू करें।

9. राइटिंग

2vnNrxhzpJ78jLkKiCAj tpNYbHwOcjsUMU5y TBnSU3 nlVFMV9iZKLfn9EMzBSyPo6yc96l3bhuTb7vSHAj9khW5sU EqEaixUXmN3MIj1e4b7PrhhV1x38S9A4rDQ7mJKRT sAg QYE D1A

लिखने की आदत आपके स्ट्रेस को दूर करने में हेल्प करेगी। यह हाइली प्रोडक्टिव और रिलेक्सिंग हॉबी है। आपको या तो अपने थॉट्स और इमोशन पेपर या ऑनलाइन लिखने शुरू करें।

10. इंस्ट्रूमेंट लर्निंग

PcZ5iTJgan3ALkRknAHFH1bJxd80su1JgMlZXZh2UzYqE 6HSeVDYrJCmCS1fUQK9R3FnK1e7j2K FslsP2EE1Bj9vJqePxzdbbh5oRVeBZsuRjGxxv LJThOKZUFlFDlzpBUjqrB2BkuRmgFQ

जब आप कुछ सीखना बंद कर देते हैं, तो आपको स्ट्रेस हैंडल करना भी मुश्किल होता है। कैसे? जब आप किसी न किसी नई चीज़ को सीखते हैं, तो आपके अंदर एनर्जी फ्लो एक अलग ही लेवल का होता है, इसलिए मैं कहूँगी कि क्यों ना कोई इंस्ट्रूमेंट सीखा जाए!! इससे आप हमेशा स्टूडेंट भी बनी रहेंगी और आपके अंदर एक स्टूडेंट जैसा ज़ज़्बा होगा।

About Author

Sonal Sharma

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *