About Us

Pankhuri is a women’s only community for members to socialize, explore and upskill through live interactive courses, expert chat, and interest-based clubs. Our short video app opens up endless possibilities for women with interests like fashion, beauty, grooming and lifestyle.

We are dedicated to all things beauty, inside and out. From hair and makeup to health and wellness, Pankhuri takes a fresh, no-nonsense approach to help you feel and look your absolute best. We help women find confidence, community and joy through beauty. It is a safe and empowering space that aims to help them lead their best lives. We’re driven by a commitment to improving women’s lives by covering daily breakthroughs in beauty and health, with a focus on story-telling and original reporting.

We are an ambitious, creative and committed community, backed by some of the best investors in the country. We are female-founded and led, and believe passionately in creating an inclusive and welcoming ecosystem for everyone.

क्या आप उन लोगों में से एक हैं जो माइक उठाकर पूरे रूम को टेक ओवर कर सकते हैं? लेकिन जब आपको अपना ये टैलेंट दिखाने का मौका मिलता है तो आपका कॉन्फिडेंस आपका साथ छोड़ देता है? अगर हाँ, तो चिंता मत कीजिये आप बिलकुल सही ब्लॉग पर आये हैं ! 

aNB6txPAOmiXhciFaIYDrVMKwleXTSUdIQuVL5jKzmcrMnaQfcThe 4wmVs0osg62jutWl5KTvGukMB8iYycwwoxANRF 71x962hu 4p6ETgcAUro 97owOUvW7x0lfOYLzXt8iTi nENqdbXw

स्टेज के डर से मुंह सूखना, तेज सांस लेना, दिल की धड़कन बढ़ जाना और जी मिचलाना जैसी समस्याएं होती हैं। अगर आप लोगों के समूह के सामने खड़े होने और परफॉर्म करने से डरते हैं तो आप अकेले नहीं हैं। अधिकांश लोग दर्शकों के सामने परफॉर्म करने या बात करने के बजाय मक्खियाँ पकड़ना ज्यादा पसंद करेंगे।

परफॉरमेंस एंग्जायटी आपके सेल्फ-एस्टीम और कॉन्फिडेंस पर भी नेगटिव इम्पैक्ट डाल सकती है। ऐसे कई तरीके हैं जिन्हे अपनाकर हम अपने इमोशंस को कंट्रोल और परफॉर्मेंस एंग्जायटी को काम कर सकते हैं। इन तरीकों ने मेरे स्टेज फोबिआ को भी काफी हद तक खत्म कर दिया है। तो आइये इन तरीकों पर एक नज़र डालते हैं। 

प्रैक्टिस, प्रैक्टिस, प्रैक्टिस 

OAppXTOTn 9YDHTW6ly1AWplVggoWJ77e5yQj3AtPiLJzZAFfjRSlbJiJkVaDHdXbMPN uOBp5Jow632 o WHMB0JSCIQu7fL5t3E2M UbsO

अगर आपके पास स्टेज पर बोलने के लिए स्टफ मौजूद है तो इसका मतलब ये नहीं है कि आपका स्टेज फियर का इशू खत्म हो जायेगा। आपको पब्लिक में बोलने या परफॉर्म करने वाले दिन से पहले जितनी हो सके उतनी प्रैक्टिस करनी चाहिए। इससे आप अपने कंटेंट को ज्यादा अच्छे से समझ और याद कर पाएंगे और इससे आपका कॉन्फिडेंस बढ़ेगा। 

डीप ब्रेथ 

JFPEuueq89s7hGLgRM7DOr3Ylp 3tDdB snAd9 VOw sWmr7dPQjEPH77Ti 8qmFWifuSNqLkYoLTUf0Hrkzv7 zGspr6C8BVGzBCYuhL4dtBgIo1G2Z 0kvSsF

अपनी आँखें बंद करके डीप ब्रेथ लेना, स्टेज एंग्जायटी का मुकाबला करने का एक मजबूत तरीका है। शुरू करने के लिए बस तीन गहरी सांसें लें, जिससे आपकी बॉडी रिलैक्स हो जाएगी। कई अध्ययनों से पता चला है कि डीप ब्रेथ सेशन आपकी एंग्जायटी को काफी काम कर सकता है। स्टेज फियर ये जुडी भावनाएं आमतौर पर परफॉर्मेंस से पहले सबसे स्ट्रांग होती हैं  से पहले सबसे मजबूत होती हैं, इसलिए स्टेज पर जाने से पहले ब्रीथिंग के लिए थोड़ा टाइम निकालें।

इससे लड़ने की कोशिश न करें 

ARd5CXSIoiKX4ksgKHV8YEuk

आपको उम्मीद करनी चाहिए और स्वीकार करना चाहिए कि आप घबराएंगे, खासकर अपनी परफॉर्मेंस के शुरुआती कुछ मिनटों के दौरान। आप अपनी एंग्जायटी से जितना लड़ेंगे, वह उतनी ही मजबूत होती जाएगी। पब्लिक में बोलते समय, एक बार फिर से परफॉर्मेंस पर फोकस करें और तनाव धीरे-धीरे कम हो जाएगा।

पहले पांच मिनट में कोशिश करें

ffHxYBU7FWkjn8VGl0NcazuQ0iS97s 11ROFb1F4gIbhvF1yMnAAl9GsjaC2ydZRpcTYQlPMlcBa6MhekJwzmCRRoPkmowVl87saRhcbhMD CopQ 8

मान लें कि आपकी परफॉर्मेंस केवल पांच मिनट लंबी है। इससे तनाव कम होगा। केवल पहले पांच मिनट को निकालने पर कंसन्ट्रेट करें; तब तक आप शांत हो चुके होंगे और बाकी सब आसान हो जाएगा।

अपने आप से बात करें

IAs7hHLo NYAYZ2KpwLRi IXERUKLP8N5Ouoyi4MdJCNBs6dwzmacaiM86MyCJeJVKsjuKu7xR

आपको यह समझना चाहिए कि, स्टेज फियर “सब सिर में है,” यह खुद को फिजिकली एक्सप्रेस शारीरिक करता है। सबसे एफ्फेक्टिव तरीका है अपनी खराब स्पीच को एडजस्ट करना। “अगर मैं कंटेंट भूल जाऊं तो क्या होगा?” के बारे में परेशान होना बंद करें।

इसे पॉज़िटिव सोच में बदलें, जैसे, “क्या होगा अगर मैं वास्तव में इसमें अच्छा हूँ?” पॉज़िटिव अफर्मेशन, हो सकता है ये आपको बहुत कॉम्प्लिकेटेड या बहुत सिंपल लगे, लेकिन ये आपको पब्लिक में बोलते समय स्टेज फियर को खत्म करने की दिशा में एक लंबा रास्ता तय करेगी।

एक पॉज़िटिव आउटकम की इमेजिनेशन करें 

EAR1VZDosmvYDZQJqCdRDUBYF6MXyMT QlbmMqtvbo p9pPP6oF7Sz opmv6jWlOQRP 9qGlegCMHSaIuhHKIYeM8YX j0m3PBi4nW27bPaNZg2Gt1 deGM7RrqQ9MaZ9b8sNNn 05qPZqs3QA

एथलीट, चेस ग्रंड्मास्टर्स और थ्योरेटिकल फैसिकिस्ट्स पॉजिटिव विसुअलाइज़ेशन का यूज़ करते हैं, और आपको भी करना चाहिए ! दूसरे शब्दों में, अपनी परफॉर्मेंस को सक्सेसफुल बनाने में खुदकी की हेल्प करें! पॉजिटिव आउटकम की उम्मीद में जितना ज्यादा टाइम और प्रैक्टिस आप लगते हैं उतना ही आप रियल लाइफ में अपने पेरोफॉर्मेन्स के लिए प्रीपेर होते जाते हैं। 

सबसे खराब सिचुएशन  के बारे में सोचें 

bO55KaXHhhj2dt75LHGX5k18I6B

अगर आप परफॉर्मेंस से पहले आराम नहीं कर सकते हैं, तो सबसे खराब सिचुएशन को इमेजिन करके खुदको एंटरटेन करें। खुद को सबसे खराब सिचुएशन को इमेजिन करने के लिए तैयार करना अक्सर काफी एंटरटेनिंग होता है और आपकी टेंशन और स्ट्रेस को काम करने में काफी मदद करता है। 

शांत रहें, जल्दबाजी न करें

7iFfYLl4AMgi1Q9Bk5nWtPQ64cUPYo6U6MSYD aWGROff0ghFpSxrbxGP2hqocXPzrzDXT5znBePEDeY4xj1Bhul1YpkrJ 1T

एंग्जायटी में अपनी परफॉर्मेंस की स्पीड न बढ़ाएं। धीरे-धीरे शुरू करें और अपने आप को एक कम्फर्टेबल स्पीड में सेटल होने के लिए टाइम दें। आपको ऑडियंस के साथ तालमेल बिठाने के लिए थोड़ा टाइम चाहिए होगा और ऑडिएंस को आपके साथ तालमेल बिठाने के लिए थोड़ा टाइम चाहिए होगा। 

अपनी ऑडिएंस को बड़ी सी स्माइल के साथ ग्रीट करें 

tUkZ6W7YRaQ393PRVtrlN7Jflt87RaWKnLBkflAvzkDSyoUpARo FKeY67WrXQ vr9rtMVkiH0gY8sqLtVy8Hobr QDPH3aKW6royeScurjRXW3E6bl2FJTjoojtYK1Bh08KeNFiYPZ6VSk sg

एक स्माइल जंगल की आग की तरह फैल जाती है। कोई फर्क नहीं पड़ता कि कमरे में माहौल कितना सीरियस है, एक फ्रेंडली और वार्म ग्रीटिंग बेशक रूम की टेंशन को काम करेगा और आपकी ऑडियंस पर आपका अच्छा इम्प्रेशन छोड़ेगा। इस पल में खुद को इन्वेस्ट करें, और ऑडियंस को बताएं कि आपको यहाँ रहने में कितना मजा आता है। 

मूवमेंट करते रहें 

XqA1rSurlmka fapUZpg5CRoQEQtAKsU1P2eeOQfazK jNNhNyxEj8QWlciuEVbO7cAsCZav TbfMXs42 vr5wf38E

ग्रुप के सामने बोलते टाइम, क्या आपने कभी ऐसा महसूस किया है कि आप प्रेशर कुकर में हैं? क्या आपको यह जानने की ज़रूरत है कि प्रेशर में बोलते टाइम जल्दी से कैसे सोचना है? बोलने वाली नसें स्ट्रेस हॉर्मोन्स को रिलीज़ करती हैं जो आपको खतरे से लड़ने या वहाँ से भागने के लिए एन्करेज करती हैं। कॉन्स्टिपेशन की तरह, मोशनलेस रहने पर प्रेशर और बढ़ता है। इसलिए परफॉर्म करते टाइम मूवमेंट करते रहें। 

image 27

अगर आप अपनी चिंताओं को नज़रअंदाज़ करना छोड़ दें और उन्हें कम करने और मैनेज करने के लिए, नई तकनीकों को सीखने के लिए तैयार हैं तो आप अपना कॉन्फिडेंस और खुदपर ट्रस्ट फिर से पा सकते हैं। अपने डर का सामना करके, आप परफॉर्मेंस एंग्जायटी को दूर कर सकते हैं और लोगों के सामने खुद को व्यक्त करने में कम्फर्ट और ईज पा सकते हैं।

मुझे उम्मीद है कि आपको यह ब्लॉग यूज़फुल लगा होगा। इसके अलावा, अगर आपको यह ब्लॉग अच्छा लगा हो और आप मुझे थैंक्यू चाहते हैं, तो नीचे कमैंट्स जरूर करें और इस ब्लॉग को शेयर करना न भूलें!!

About Author

Anjali Mrinal

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *