About Us

Pankhuri is a women’s only community for members to socialize, explore and upskill through live interactive courses, expert chat, and interest-based clubs. Our short video app opens up endless possibilities for women with interests like fashion, beauty, grooming and lifestyle.

We are dedicated to all things beauty, inside and out. From hair and makeup to health and wellness, Pankhuri takes a fresh, no-nonsense approach to help you feel and look your absolute best. We help women find confidence, community and joy through beauty. It is a safe and empowering space that aims to help them lead their best lives. We’re driven by a commitment to improving women’s lives by covering daily breakthroughs in beauty and health, with a focus on story-telling and original reporting.

We are an ambitious, creative and committed community, backed by some of the best investors in the country. We are female-founded and led, and believe passionately in creating an inclusive and welcoming ecosystem for everyone.

 4 कलर करेक्टर्स से कवर अप करें रेडनेस, पिग्मेंटेशन और डार्क सर्कल

मेकअप में परफेक्शन चाहने वालों के लिए यह ब्लॉग बहुत काम का हो सकता है। अच्छा बताइए कि आप डार्क शेडोज़ से छुटकारा पाने के लिए क्या करते हैं, कंसीलर का यूज़? सही कहा ना! डार्क शेडोज़ हाइड हो जाए इसके लिए अंडर आइज़ कंसीलर अप्लाई करते हैं, लेकिन कई बार पता कि प्रॉपरली कंसील्ड नहीं हुआ है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि आप कितने लेयर्स अप्लाई कर रहे हैं, आपके डार्क सर्कल्स और हाइपरपिग्मेंटेशन फिर भी नज़र आते है और आप ऐसे दिखते हैं जैसे कि पूरे वीक सोए ही नहीं है। जी हाँ, बिलकुल! आप फुल कवरेज फॉर्मूला अपना सकते हैं, लेकिन कई लोगों के एक्सपीरियेंस के मुताबिक ये फाइन लाइन्स में सैटल हो जाते हैं और उसका ही अपीयरेंस एन्हैंस करते हैं। इसलिए, इसका क्या सॉल्यूशन है? ईज़ी..वेरी ईज़ी…!! इसका सॉल्यूशन है कलर कलेक्टर में इंवेस्ट करना। कलर करेक्टर को लिटिल-नोन मेकअप एसेंशियल भी मान सकते हैं क्योंकि इसका प्रॉपर यूज़ अभी कुछ लोगों को ही पता है।

3p958IU6275BKU2Qz87dk4cavHEsQwjlocAlH34d3YN5wBjd96GE9GjqrEEySk hnzTZ8hBelhOUvngU72ao8UseDz0w7p4Z30sz8ErvM7zbK KlZL5ssh67QJhHv6Gt587 owf27MR1eWgO7zpvaMsd5ywFOX26XO P

पहली नज़र में आपको कलर करेक्टर यूज़ करने हिचकिचाहट हो सकती है, लेकिन कलर करेक्टर्स मेकअप आर्टिस्ट-अप्रूव्ड सीक्रेट है। कुछ एक्सपर्ट्स का मानना है कि कलर करेक्टर कंसीलर की तरह होते हैं, सिवाय इसके कि वे स्किन में डिसकलरेशन को बैलेंस करने में हेल्प करते हैं। इसलिए जहां कंसीलर आपके नेचुरल स्किन टोन से मैच करते हुए इम्परफेक्शन्स को दूर करने में हेल्प करते हैं, वहीं कलर करेक्टर्स किसी भी ब्लैमिश, डार्क स्पॉट या अंडर आई शेडो के कलर को न्यूट्रलाइज़ करते हैं। ये यूनिफॉर्म कॉम्प्लैक्शन रीविल करने में हेल्प करते हैं।

dFg9AGmSWd6IeQYxIcQ1Qr8T2gGounTO1KTiqCk2DO4chSynopM40C8FzcF MZRxE S HISaXusC6Zouff85jESeNPrf si6sCA8FWFawKaBiSLu1tiZ7Ym3qMZx5sy80mAZ CellCEeF bk73I4mimV5e7MalEJLems adrmiT8za4n9KhftG8sPA

ऐसे यूज़ करें कलर करेक्टर

कलर करेक्टर का यूज़ स्किन पर सबसे पहले करें। फिर स्पॉन्ज की हेल्प से फाउंडेशन और फिर कंसीलर का यूज़ करें। कलर करेक्टर को पूरे फेस पर अप्लाई नहीं करना है। जहां रेडनेस, डलनेस,  या हाइपरपिग्मेंटेशन हो, कलर करेक्टर वहीं पर इसका यूज करें। 

LHNG9H91H4jFqGAHksLQ6zDk0aaTaNYKjJIb5YbMqWI2x5jC CjeEi15YYNRcb5HMNCOccmxXoGj0vBIG7jWsZIfj7QOEVT3nHTUl0 YpeYkhqz4LyhDmxuy dOEfcEEXfTCv qZkM06ElFyJeB2zWBCE8tHmE8B8x3w QWfIlJ7To IIHKSNmkROg

तो फ्रेंड्स! आप कलर करेक्टर के यूज़ को लेकर क्लीयर हो गए हैं, तो अब आपको बता दें कि डिफरेंट कलर्स के ज़रिए स्किन के इम्पर्फेक्शन को हाइड किया जा सकता हैं। आपके सभी बेस मेकअप भी रेड, ब्लू, ग्रीन और यलो कलर की तरह प्राइमरी कलर्स से बने होते हैं और इन्हें व्हाइट या कलर कलर के साथ मिलाया जाता है। कलर के लेवल डिफरेंट टोन और शेड्स देते हैं। तो चलिए जानते हैं कलर कलेक्टर्ल के 4 टाइप्स।

2. ग्रीन

ब्राइट ग्रीन शेड फेस पर अप्लाई करना स्ट्रैंज साउंड कर सकता है, लेकिन स्किन के स्पॉट को कवर अप करने के लिए यह किसी मिरेकल वर्कर से कम नहीं। रेडनेस वॉश आउट करने के लिए पिंपल पर ग्रीन करेक्ट डायरेक्टली डैब करें। करेक्टर के ग्रीन डॉट पर फाउंडेशन ब्लेंड करें और रेड पिंपल और ग्रीन डॉट फाउंडेशन के शेड में डिसअपीयर हो जाएगा। यहाँ ध्यान रखें कि प्रॉब्लम एरिया पर करेक्टर का डॉट अप्लाई करना है, ना कि उसके आसपास। ग्रीन रेडनेस को हटा देता है,  इसलिए अगर पिंपल के कारण रेडनेस है, तो ग्रीन करेक्टर परफेक्ट च्वॉइस है। 

N1TR0APZgGnP07rq7nOBO A y2 yYDQcACenUiFR NAYgd rgSqdH5RGURvjkq xnvQYXLitYPbZvhg328pwtBkGZzqO8u0sorb9BOaoLwLpUjVr lHSEcVly3nWcj8ntlmIcz7ddo5n2mEXNJ2a9DgXQLXG08bOkP9Akp6Sdr1FqF9msefzarwEiA

3. ऑरेंज/पीच

पीच से लेकर ब्राउन शेड्स तक ये सभी डार्क सर्कल्स और पिग्मेंटेशन हाइड करने से कनेक्टेड है। लाइट डार्क सर्कल्स और मार्क्स के लिए, आपको डायरेक्टली उस एरिया पर करेक्टर यूज़ करना होगा जो आपको करेक्ट करना है। अगर एरिया स्लाइटली डार्क है, तो स्ट्रॉन्ग वॉर्मर टोन यूज़ करें। यह टोन माउथ एरिया पर अच्छा काम करता है जो कि थ्रेडिंग की वजह से ब्लूइश ग्रेनेस हो सकता है।

je0l qzUiaOEcRYo7sNQoHyR 8vhK6BwWjJwSvUpZeD0XrtfUwJtJiYDdppPTfRFQu3EOmk2VaoJ 1tC4bvfAJJhRoLKRbZ7OIuylkmP 3mRl5R1wAxdepV5r C

4. यलो

पूरे समय टायर्ड फील करते हैं? यलो कलर करेक्टर्स अंडर आई और फेस के सेंटर को ब्राइटन अप करने में हेल्प करता है। इसका रीज़न यह है कि इसमें रेड और ऑरेंज ह्यूज़ इन्क्लूड होता है जो कि कलर व्हील पर पर्पल और ग्रीन के कॉम्प्लीमेंट्री है। जो कुछ भी ब्लू या पर्पल टोन में हो, उसे कवर अप करने में भी इसका यूज़ किया जा सकता है। यलो स्पॉट करेक्टर अप्लाई करें और फिर बेस्ट यूज़ के लिए रेग्यूलर कंसीलर फॉलो करें। जैसा रिजल्ट चाहते हैं, उसे पाने मे लिए, यह ज़रूरी है कि डायरेक्टली एरिया पर करेक्टर प्लेस करें और आसपास की स्किन में ब्लेंड न करें।

6uIdqDOfgKBc6FtPTH9hWOyOwt1Cjxwh aStrv1ZdjmNZDnjE yqEvSGaYp3m9pIRAatohQ2XfipkFokWtRfe9rmOHujET0M eXv1LlR7YPKbWPBvH545VVKtPldgwsVdQH YqhI V4qi5 vMt4 LksXdid rte6gpgSt5R0XnMhd nTGEdMb9lofw

5. लैवेंडर/ पर्पल

लैवेंडर शेड्स डल यलो और ऑरेंज टोन्स को टारगेट कर सकता है। वैसे कई इंडियन स्किन टोन्स इस करेक्टर शेड को स्किन कर सकते हैं, लेकिन अगर आपकी स्किन में यलोइश टिंज और ब्राउनिश कॉम्प्लैशन है, तो लैवेंडर किसी भी स्पॉट्स या ओवरऑल डलनेस को हाइड कर सकता है। यह हाइलाइटर को भी डबल अप कर सकता है। इसलिए फेस के उन पार्ट्स पर अप्लाई करें जिसे आप टारगेट कर रहे हैं और फिर पर्पल शेड को मास्क करने के लिए कंसीलर फॉलो करें।

कलर करेक्टर के यूज़ को बिनिगर्स स्किप कर सकते हैं, लेकिन धीरे-धीरे अगर आप मेकअप में परफेक्शन चाहते  हैं, तो इसका यूज़ आप बहुत ही स्मार्टली कर सकते हैं। एक्ने ब्रेकआउट या डार्क सर्कल्स हो, आप इन कलर करेक्टर के साथ मेकअप को फ्लॉलेस बना सकते हैं।

About Author

Sonal Sharma

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *