About Us

Pankhuri is a women’s only community for members to socialize, explore and upskill through live interactive courses, expert chat, and interest-based clubs. Our short video app opens up endless possibilities for women with interests like fashion, beauty, grooming and lifestyle.

We are dedicated to all things beauty, inside and out. From hair and makeup to health and wellness, Pankhuri takes a fresh, no-nonsense approach to help you feel and look your absolute best. We help women find confidence, community and joy through beauty. It is a safe and empowering space that aims to help them lead their best lives. We’re driven by a commitment to improving women’s lives by covering daily breakthroughs in beauty and health, with a focus on story-telling and original reporting.

We are an ambitious, creative and committed community, backed by some of the best investors in the country. We are female-founded and led, and believe passionately in creating an inclusive and welcoming ecosystem for everyone.

इन 4 योगा पोज़ से स्ट्रॉन्ग बनाएं डाइजेस्टिव सिस्टम

इनडाइजेशन वाकई बहुत बुरी चीज़ है। मैंने जितने भी लोगों को इससे परेशान देखा है, उनका हाल बेहाल रहता है। इनडाइजेशन वैसे भी कई तरह की दिक्कतें पैदा कर देता है। पेट दर्द, ब्लोटिंग, एसिडिटी, कॉन्स्टिपेशन और लूज़ मोशन जैसे हेल्थ इश्यूज़ फेस करने पड़ जाते हैं। हेल्दी बॉडी के लिए फूड का प्रॉपर डाइजेशन ज़रूरी है। आपकी फूड हैबिट्स और एक्टिविटीज़ सीधे डाइजेशन प्रोसेस को अफेक्ट करती है। 

TH3Bi7gQxjY8KkxuTv6awElpuOxiKgeH9aB joRxML9R13HLkfyTcw906Uu62XuIWtSBZo050ufkwUKTdm18HbRohICuxK6 gw6R9KCK8A bBkUHDQM 8J0RcNm4U vnapebcLG7GfnaU2d9 B8iJNk

आप अपनी लाइफस्टाइल में बदलाव करके अपने डाइजेशन सिस्टम को हेल्दी और स्ट्रॉन्ग रख सकते हैं। डाइजेशन सिस्टम को बेहतर बनाने के लिए यहाँ कुछ योगा पोज़ दिए हैं।

1. कोबरा पोज़ (भुजंगासन)

अब जैसा कि आपको नाम से ही समझ आ रहा होगा कि इसमें हमें कोबरा स्नैक की तरह पोज़ लेना है। जब यह पोज़ करते हैं, तो इससे पूरी बॉडी में स्ट्रेच होता है जिससे बॉडी फ्लैग्ज़िबल बनती है और आपका डाइजेस्टिव सिस्टम भी स्ट्रॉन्ग बनता है। इस पोज़ में जो स्ट्रेच होता है, उससे पेट के ऑर्गन्स काम करने में बहुत आसानी होती है। वाकई मुझे तो कोबरा पोज़ करने के बाद जो रिलेक्सैशन मिलता है, उसकी बात ही अलग है!! तो चलिए डाइजेशन को इम्प्रूव करने के लिए इस पोज़ का करना सीख लीजिए।

CXjd93QoQlRiUpE gyUOxd9Cy95gRbRIfgJJbg1lXj8yge8431Vrgpx0G6QmHcQuIBThmFAOU7mMkBCpG218qKC1kkfqw9sg QeAt

ऐसे करें

मैट बिछा लीजिए। पेट के बल लेट जाएं और पैरों को सीधा रखें। इस बात का ध्यान रखें कि पैरों की अंगुलियां आपस में टच करते हुए बाहर की तरफ हो।

अब अगले स्टेप में आपको चेस्ट के दोनों किनारों के पास हथेलियों को रखना है। हाथ आपके बॉडी के करीब हो और कोहनी बाहर की ओर निकले।

इस पोज़िशन के बाद अपने फोरहेड को फ्लोर पर टच कराएं और बॉडी को लूज़ छोड़ें। धीरे-धीरे सांस लेते हुए अपने फोरहेड, नेक और फिर शोल्डर को ऊपर उठाएं।

अपने बैक के मसल्स के हेल्प से चेस्ट को ऊँचा करते जाएं और सिर को पूरी तरह ऊपर उठा दें।

कोबरा के पोज़ की तरह अपने नेक को धीरे से पीछे की ओर ले जाएं और ऊपर की ओर देखते हुए रिलेक्स होकर सांस लें। चेस्ट को पूरी तरह स्ट्रेच करें।

बॉडी का वेट अपने हथेलियों पर न आने दें। इस पोज़िशन में 20-25 सेकंड तक रहें। फिर अपने पहले वाली पोज़िशन में वापस आ जाएं और सांस छोड़ें। इस पोज़ को 2-3 बार रिपीट करें।

2. डाउनवर्ड फेसिंग डॉग पोज़ (अधो मुख शवासन)

इस योगा पोज़ से आपको ढेरों फायदे मिल सकते हैं। जहाँ यह पोज़ सिरदर्द, पीठ दर्द और थकान से राहत दिलाता है, वहीं एब्डोमिनल ऑर्गन को स्टिम्यूलेट करता है और डाइजेशन को इम्प्रूव करता है। इस पोज़ से एब्डोमिनल मसल्स स्ट्रेच होती है जिससे इससे जुड़ी परेशानियों से छुटकारा मिलता है। चलिए इस पोज़ को करने का सही तरीका जान लीजिए।

uDz7P0TgNT w3idkOPtDAjyNwYhtbur7b0ON6llUI5c52LAXYUYA0kEM4blO6OrczCo7HkGToFVrO CaZJzI0QwA uHMGxZkaW0R1gkNhJpoBOE1bgio xOpOjIUQTu AXwGyrRSzh3c83rEueS3AZI

ऐसे करें

सबसे पहले फ्लोर पर एकदम स्ट्रेट खड़े हो जाएं और उसके बाद दोनों हाथों को आगे करते हुए नीचे फ्लोर की ओर झुक जाएं। जब आप झुकते हैं, तब आपके घुटने सीधे हों और हिप्स के ठीक नीचे हों।

हाथ शोल्डर के बराबर नहीं बल्कि इससे थोड़ा सा पहले झुका लें।

हथेलियों को ऐसे ही झुके हुए पोज़िशन में ही आगे की ओर फैलाएं और अंगुलियों को पैरेलल रखें।

अब अपने घुटनों को हल्का सा मोडें और एड़ियों को फ्लोर से ऊपर उठाएं।

इस पोज़िशन पर अपने हिप्स को पेल्विक से स्ट्रेच करें और हल्का सा प्यूबिक की ओर प्रेस करें।

हाथों को पूरी तरह फ्लोर पर शोल्डर के नीचे से आगे की ओर फैलाए रखें। ध्यान रखें कि अंगुलियां फ्लोर पर फैली होनी चाहिए।

अब अपने घुटनों को फ्लोर पर थोड़ा और झुकाएं और हिप्स को जितना हो सकते ऊपर उठाएं।

सिर हल्का सा फ्लोर की ओर झुका हो और बैक के लाइन में ही हो। यह है आपका परफेक्ट डाउनवर्ड फेसिंग डॉग पोज़।

3. बोट पोज़ (नौकासन)

बोट पोज़ से इनडाइजेशन, ब्लोटिंग ,कॉन्स्टिपेशन, गैस जैसे डाइजेशन से जुड़े डिसऑर्डर दूर हो जाते हैं। वैसे आप अगर अपनी बढ़ी हुई बैली से भी परेशान हैं, तो यह योगा पोज़ बेहद काम का है।

ऐसे करें

मैट पर पीठ के बल लेट जाएं और अब पैरों को आपस में जोड़ लें।

अपने हाथों को भी बॉडी से टच करते हुए रखें। अब गहरी सांस लें और फिर सांस छोड़ते हुए अपने सिर, पैर, चेस्ट व हाथों को ऊपर की ओर उठाएं।

ध्यान रखें कि घुटने मुड़े हुए नहीं होने चाहिए। इस पोज़ में एब्डोमिनल स्ट्रेच फील करें और अपना पूरा वेट हिप्स के ऊपर बैलेंस करें।

कुछ सेकंड इसी पोज़ में रहें। इसके बाद धीरे−धीरे नॉर्मल पोज़िशन में लौट आएं। इसके बाद दोबारा इस पोज़ को रिपीट करें।

4. चेयर पोज़ (उत्कटासन)

यह पोज़ बॉडी का स्टेमिना और स्ट्रेंथ बढ़ाने के साथ डाइजेशन इम्प्रूव करने में हेल्प करता है। जिन लोगों को कॉन्स्टिपेशन का इश्यू हैं, उनके लिए तो ये पोज़ बेहद फायदेमंद है।

th93dMFcNot 9CJywWjDqyHD20vQrao4UlsY03aimRDYn9bY7Zc YfrynUz dIgp5yShdyQp2FsgZnss A2oyG8zJG927jAdJvAoyxHDhDuI46C6gQ8R2U4vsnNYBlHf1iNxyAaUzfgIai

ऐसे करें

चेयर पोज़ करने के लिए सबसे पहले दोनों पैरों पर सीधे खड़े हो जाएं।

दोनों पैरों को थोड़ी दूरी पर रखें। दोनों हाथों को ऊपर उठाते हुए सामने की ओर लाएं। हथेलियों को नीचे की तरफ रखें। फिर घुटनों को ऐसे मोड़ें जैसे कि आप किसी चेयर पर बैठे हों।

बॉडी का सारा वेट एड़ियों पर डालें। शोल्डर्ल को कानों से दूरी पर रखें। इसी पोज़ में करीब 30-40 सेकंड तक रहें और फिर नॉर्मल पोज में आ जाएं। इस पोज़िशन को 6-7 बार रिपीट करें। अगर आपके घुटनों में कोई समस्या हैं तो इस पोज़ को अवॉइड करें।

तो आपने देखा कि किस तरह से कुछ योगा पोज़ आपकी डाइजेशन की प्रॉब्लम्स को दूर कर सकते हैं। हाँ! पर ये न सोचे कि एक या दो बार करने पर ही सारी परेशानी दूर हो जाएगी। ऐसा नहीं है! किसी भी तरह के फायदे के लिए आपको रेग्यूलर होने की ज़रूरत है। आपको इन योगा पोज़ को रोज़ाना करना होगा और फिर आपको डिफरेंस फील होने लगेगा। तो चलिए! शुरू हो जाइए!!

About Author

Sonal Sharma

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *