About Us

Pankhuri is a women’s only community for members to socialize, explore and upskill through live interactive courses, expert chat, and interest-based clubs. Our short video app opens up endless possibilities for women with interests like fashion, beauty, grooming and lifestyle.

We are dedicated to all things beauty, inside and out. From hair and makeup to health and wellness, Pankhuri takes a fresh, no-nonsense approach to help you feel and look your absolute best. We help women find confidence, community and joy through beauty. It is a safe and empowering space that aims to help them lead their best lives. We’re driven by a commitment to improving women’s lives by covering daily breakthroughs in beauty and health, with a focus on story-telling and original reporting.

We are an ambitious, creative and committed community, backed by some of the best investors in the country. We are female-founded and led, and believe passionately in creating an inclusive and welcoming ecosystem for everyone.

अगर आपको पेट से जुड़ी दिक्क्तें हैं तो आपको इसे हल्के में नहीं लेना चाहिए। एसिडिटी, ब्लोटिंग जैसी प्रॉब्लम्स से आप दिनभर परेशान तो होंगे ही, इससे हालत भी बिगड़ेगी। बेहतर होगा कि पेट के हेल्थ के लिए आप योगासन अपनाएं। जी हां, आप कुछ योगा पोज़ के ज़रिए पेट के हेल्थ को बनाए रख सकते हैं। 

ZIi O OEHhKuahMdAiRg Xy 1xx4e3y8qTET3N4H GrLCDu1rFmLVU9nQZ6X0h0BRrfHa9Kb3f0gpJe2trBYWgX motpe2d2tbgIsGNMC5UR7Usrd6vJms0r 6ZIocapoHVoe4w9DbWXtXaFsjs3LoDQ4vdrSMSMV7QdE RofRzuJQ2d3cJiMdhWVgIedg

तो चलिए यहाँ जानें 4 योगा पोज़ जो पेट के हेल्थ को बनाएं रखेंगे।

1. त्रिकोणासन

Ou1NXKCXLTzcv4ppIOAkysPphIah6OTzZSYiiS6WYVoJUPwWoygHSUai4HB pJZNm rDmB UkY9mhf3jsJPzSwX9U7DshqSRu YitLUfLaKr YUlh1mO3NorD2AwdVjMBYZ3IwFXTqlEKIGjX1uWINwh6YL g9rdlyGFrWse5Mhq6rKcCh81ElqsaOHB Q

सीधे खड़े हो जाएं और अपने पैरों के बीच कम से कम 3 फीट की दूरी रखें। अपने दोनों हाथों को साइड में फैलाएं और उन्हें कंधों के बराबर रखें।

धीरे-धीरे इनहेल करते हुए लेफ्ट हैंड को ऊपर उठायें और बॉडी को राइट में बेंड करें। राइट हैंड नीचे की ओर हो और फिंगर्स टोज़ की तऱफ पॉइन्टेड हो। बॉडी का ऑप्टिमम बैलेंस बनाए रखें।

फाइनल पोज़िशन के दौरान डीप ब्रीद लें और एक्सहेल करते हुए बॉडी को रिलेक्स करें।

दूसरी साइड भी सेम प्रोसेस रिपीट करें और इस पोज़िशन में कम से कम एक मिनट तक रहें।

2. मार्जरासन

XZNTRn8EWdEFEYPYHzp3WR4SBzn5ln6Ita5pmrboFYV0 jN0ejPf9H1GvzLm5S7udYwCCMxbCIUfzGvc 6O6o4ecarhvNim1jK1ixy4U5f osooptkjeEZnU5D7naCc U51VDI83MBDPtutn5pSTeiLLqhY3cGra aVsiUdu0sgsiSqpJhrFEFiwtgBZsQ

यह बहुत ही आसान पोज़ है। एसिडिटी से रिलीफ़ पाने के अलावा भी इसके ढेरों फायदें हैं। यह पोज़ ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करता है। साथ ही स्पाइन को फ्लैग्ज़िबल बनाता है।

सबसे पहले टेबल की तरह पोज़िशन बना लें। इसके लिए घुटनों और हाथों के बल आ जाएं। हाथ एकदम सीधे हों। अब एक्सहेल करते हुए सिर को चेस्ट की तरफ ले जाएं और ऊपरी कमर को बाहर की तरफ गोल करें। इस पोज़ में आपकी ऊपरी पीठ स्ट्रेच होगी।

अब इनहेल करते हुए सिर को छत की तरफ ले जाएं। ऊपरी कमर को अंदर की तरफ गोल करें। इस पोज़ में आपका चेस्ट स्ट्रेच होगा।

बस अब कोई बहाना नहीं, कोई आलस नहीं…अगर एसिडिटी को छूमंतर करना है तो इन योगा पोज़ को ज़रूर अपने रूटीन में शामिल करें। अगर आप इन्हें रेग्यूलरली करेंगे तो खुद फर्क फ़ील करेंगे कि आपका डाइजेस्टिव सिस्टम बहुत स्मूथ हो गया है। 

3. पवनमुक्तासन

सबसे पहले मैट पर पीठ के बल लेट जाएं। पैरों को एक साथ रखें और अपने हाथों को बगल में चिपकाकर रखें। इनहेल करें, फिर एक्सहेल करें और अपने दोनों घुटनों को अपनी छाती की तरफ लाएं।

अपनी थाइज़ को अपने चेस्ट से दबाएं और अपने हाथों को अपने पैरों के चारों ओर पकड़ें।

कुछ देर के लिए इस पोज़ में रहें और फिर हाथों को हटाते हुए नॉर्मल पोज़िशन में आ जाएं। यह पोज़ हमारे डाइजेस्टिव सिस्टम को बेहतर रखने में हेल्प करता है। इस पोज़ की डेली प्रैक्टिस करें और एसिडिटी से रिलीफ़ पाएं। 

 4. वज्रासन

x7Jj2x9WZmNewUFB44ESD8VhKHGrsWb0Vwigp CTeRMpiC TcDJy1e3 o1grMafvvoIL5v jo4b1M5eVSRogA3gOffMtoPa 9u qLpzCeO5FRt1xudAY5jpTbOndyp W5Mk0Vo

योगा मैट पर घुटने के बल बैठ जाएं। घुटनों और एंकल्स को पीछे की ओर मोड़ें और पैरों को पैरों की सीध में रखें। आपके पैरों के निचले हिस्से को पंजों को छूते हुए ऊपर की ओर होना चाहिए।

अपने पैरों पर वापस बैठें और नॉर्मली एक्सहेल करें। आपके बटक्स को एड़ियों पर और थाइज़ को आपके काल्व्स पर रहने दें।

आप अपनी स्पाइन, नेक और हेड को सीधा रखें। अपनी आंखें बंद करें और डीप ब्रीदिंग शुरू करें।

अपने हाथों को अपनी थाइज़ पर रखें और उसी समय ब्रीद करें। हर मील के बाद आपको इस पोज़ में बैठना चाहिए। यह पोज़ आपको डाइजेस्टिव प्रॉब्लम्स को सॉल्व करने में हेल्प करेगा।

तो देखा आपने कितने आसान योगा पोज है ना! बस आपको इसे रेग्यूलरली करना है।

About Author

Sonal Sharma

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *