About Us

Pankhuri is a women’s only community for members to socialize, explore and upskill through live interactive courses, expert chat, and interest-based clubs. Our short video app opens up endless possibilities for women with interests like fashion, beauty, grooming and lifestyle.

We are dedicated to all things beauty, inside and out. From hair and makeup to health and wellness, Pankhuri takes a fresh, no-nonsense approach to help you feel and look your absolute best. We help women find confidence, community and joy through beauty. It is a safe and empowering space that aims to help them lead their best lives. We’re driven by a commitment to improving women’s lives by covering daily breakthroughs in beauty and health, with a focus on story-telling and original reporting.

We are an ambitious, creative and committed community, backed by some of the best investors in the country. We are female-founded and led, and believe passionately in creating an inclusive and welcoming ecosystem for everyone.

इन 6 तरीकों से अपने ड्रेसर को करें ऑर्गनाइज़

कौन नहीं चाहेगा कि घर खूबसूरत दिखे, लेकिन हम अक्सर भूल जाते हैं कि घर के अच्छे दिखने के लिए इसे ऑर्गनाइज़ रखना बहुत ज़रूरी है। घर को बेहतर दिखाने के लिए हम सब कुछ करते हैं, लेकिन ड्रॉर वाले ड्रेसर को ऑर्गनाइज़ करना हमेशा भूल जाते हैं। वैसे भी एक जापानी कहावत हमें हमेशा याद रखनी चाहिए: “अ मैसी रूम इज़ ए मैसी माइंड।”

ड्रेसर में मैसी ड्रॉर को ऑर्गनाइज़ रखना बहुत मुश्किल काम लगता है और अगर टाइम-टाइम पर ध्यान न दिया जाए, तो और भी बुरी कंडीशन हो जाती है। यह इतने मैसी हो जाते हैं कि आपको देखने तक का मन नहीं करता है। इसलिए अब इस कंडीशन में खुद को आने ही न दें। आपके ड्रेसर को ऑर्गनाइज़ करने में हेल्प करने के लिए यहाँ कुछ आसान टिप्स दिए गए हैं।

z7 qlwuqF2btO6Qy5peBbopL1GIGKdLNhC wlxRoCsCHjhLjcO DPO 4jr0YjTHh8bMiN3WOHXFYijq RSG98uecgP3bTliklEU98l1gbm CTS2AT8rnqdGw6mqzghuu1mfLeUWEDx iZGgw

1. जो ज़रूरी नहीं, उसे निकाल दें

जिन चीज़ों की ज़रूरत नहीं हैं, उसे ड्रॉर से निकाल दें और यह ऑर्गनाइज़ रखने का सबसे इफेक्टिव तरीका है। आप उन चीज़ों को निकालकर कहीं और रख लें, जो आपके काम की नहीं है या तो उन्हें दे दें, जो उसे इस्तेमाल कर रखें या उन्हें रीसाइकल कर सके। इस तरह हम एक-दूसरे की हेल्प कर सकते हैं या एन्वायरनमेंट को बचा सकते हैं।

y59wdFg lTQzCFGP lGO7bd4 q8 4MMZwdYlI6gnMAI53qFN8rCYmLzct2

2. खाली करें, अरेंज करें और फिर प्रोसेस रिपीट करें

यह डिसीज़न लेने के बाद कि कौन से कपड़े, टॉवेल, अंडरगारमेंट्स और जूते रखना हैं, कपड़ों के हर ढेर के लिए एक अलग कैटेगरी बना लें ताकि इन्हें मैनेज करना आसान हो सके। अब आप यह समझ गए हैं कि इस प्रोसेस को आपको रिपीट करते रहना है जब तक कि आपका ड्रेसर क्लीन न हो जाए।

प्रो टिप: छोटे कपड़ों को रोल करके रखने से काफी जगह मिलती है और इसे अरेंज करना आसान होता है।

7bbAZJy wr7AR2xl8Y8ShwOYV4kgfYbdc81UetHYib5SUdeSyGhqCwOV9BF tC7A098X7uGizTI1Deuv r2j8bOlZVHwYQA9Qt6ISZtAL0Bh31FrhUPd84TlXBh DlELPR XZ3RwzB7hfOBv2A

3. सीज़न, ओकेशन और कपड़ों के टाइप के हिसाब से ऑर्गनाइज़ करें

आपके ड्रेसर को ऑर्गनाइज़ करने के लिए ये तीन तरीके सबसे इफेक्टिव होंगे। पहला ऑप्शन है कि इन्हें किसी ओकेशन के हिसाब से अरेंज करें। इसमें कैज़ुअल, पार्टी और फॉर्मल को अलग-अलग कैटेगरी में डिवाइड करना और खासकर इमर्जेंसी के दौरान कंफ्यूज़न से बचने के लिए उन्हें बड़े ड्रॉर में रखना शामिल हैं।

दूसरा ऑप्शन है कि इसे सीज़न के हिसाब से जमाया जाए जो कि थोड़ा जटिल काम हो सकता है, लेकिन आसान बनाया जा सकता है। चार बड़े ड्रॉर रखें और अपने कपड़ों को सीज़न के हिसाब अलग करें।

तीसरा ऑप्शन सबसे आसान है जहाँ आप अपने कपड़ों को लॉन्जरी, शॉर्ट्स, टी-शर्ट्स, टैंक टॉप, शर्ट्स, स्कर्ट्स, जींस जैसे कपड़ों के प्रकार के हिसाब से जमा सकते हैं। अगर आप सही तरीके से इसे फॉलो करेंगे तो यह टेक्नीक जादुई रूप से काम करेगी।

FjD8 EYzF3a5vyqF2xQh4NPT9cuc8iMSAjycLB3AVm2yGAXdIdw9tHfiM4bWHZkPPUwMB4MZ03PWWYdFv1F Cu6sR9 9fgIhFOHP2LwJZXFJBsNx2xrC

4. जानें फोल्ड करने का तरीका

अपने ड्रेसर को ऑर्गनाइज़ करने के लिए यह सीखना ज़रूरी है। फोल्डिंग टेक्निक्स बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह अच्छी जगह देने की वजह बन भी सकती है और नहीं भी। अपने स्पेस को ऑर्गनाइज़ करने के लिए, अपने कपड़ों को इस तरह से फोल्ड करने से बचें जिससे वे हैवी हो जाएं। इसकी बजाय, उन्हें जहाँ तक हो सके साफ सुथरे तरीके से फोल्ड करें। जैसे कि टी-शर्ट्स को पाँच बार फोल्ड करने की बजाए पतली लेयर बनाने के लिए इसे दो या तीन फोल्ड करें और एक के ऊपर एक रखें या टॉवेल को फोल्ड करने की बजाय रोल करें ताकि जितना हो सके उतने कपड़े और रख सकें।

XF5UE5aEB 7tsBevLlj9oZTJ6AUWtIYEWeK1IkgcNh9vZ0RLHAdq9nr5lyEGWAKP6VbLKIEdjmc3yuamJdX0FnquXyPej71uhk2i2Or9n4wkdz21V rAbB 9h Ju9wznayB3kqePsC6lG2p9TA

5. सेगमेंट बनाएं

टॉवेल, सॉक्स, हैंकी और भी कई तरह की चीज़ों के लिए यह एकदम सही तरीका है। सिंगल ड्रॉर में डिवाइडर बनाएं ताकि कपड़े एक-दूसरे में मिले ना और उन्हें ऐसे अरेंज करें कि आप कंफ्यूज़ न हों या भूलें नहीं कि आपने कहाँ रखे थे।

qc

लेबलिंग है काम की

यह तरीका काफी स्मार्ट माना जाता है क्योंकि यह याद रखने की बजाय कि आपने अपना सामान कहाँ रखा हैं, किसी भी तरह के कंफ्यूज़न से बचने के लिए अपने ड्रेसर को लेबल करें। सबसे अच्छी बात यह है कि यह हमें ऑर्गनाइज़ होने में हमेशा हेल्प करता है। ओकेशन, कलर्स या किसी भी तरह इसे लेबल करें।

yJY7cTWrYuetWX6bW0 0hYtboDExVkwszf4IXy4FGsb 4AuUVjv3F0 9irDNttwHU6WFL stdre3CkYsYE9rdMzbLkdjKMIPMcg3PMQx5Yc0hQwet9Vdnkc ntsSlBwrtE2S7s159wqZobrqOw

तो अब मैस को गुड बाय कहें और ऑर्गनाइज़्ड एन्वायरनमेंट रहें। ध्यान रखें कि इस रूटीन को सीज़न के मुताबिक इस्तेमाल करें और किसी भी तरह के मैस से बचें जो आपको काम को बढ़ा दें। उम्मीद है कि ये टिप्स आपके लिए काम के होंगे।

About Author

Sonal Sharma

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *