About Us

Pankhuri is a women’s only community for members to socialize, explore and upskill through live interactive courses, expert chat, and interest-based clubs. Our short video app opens up endless possibilities for women with interests like fashion, beauty, grooming and lifestyle.

We are dedicated to all things beauty, inside and out. From hair and makeup to health and wellness, Pankhuri takes a fresh, no-nonsense approach to help you feel and look your absolute best. We help women find confidence, community and joy through beauty. It is a safe and empowering space that aims to help them lead their best lives. We’re driven by a commitment to improving women’s lives by covering daily breakthroughs in beauty and health, with a focus on story-telling and original reporting.

We are an ambitious, creative and committed community, backed by some of the best investors in the country. We are female-founded and led, and believe passionately in creating an inclusive and welcoming ecosystem for everyone.

8 टिप्स जो आपको मोशन सिकनेस से बचाएंगे

अगर आप कार, ट्रेन या प्लेन से ट्रेवल कर रही हैं, तो आपके लिए अच्छी खबर है: आप मोशन सिकनेस के शुरू होने से पहले उसे रोकने के लिए कदम उठा सकती हैं।

47A tMfhk0bvNuDL FEFdcvfuXa7iO3fi GCKaaQvTsi2ywpjEPCoWu IRfFsSW6yz5hyq68zwM HaZ FDsEstpFbM4ZPOtuvoLuwkUBdtCLiEL eDPGDkHRJOjYLnfPoIZF D0 CYZLvw1obQ

कुछ लोगों को मोशन सिकनेस क्यों होती है और दूसरों को क्यों नहीं, यह पूरी तरह समझ में नहीं आता है। रिसर्चर्स का मानना है कि हमारी बॉडी के सेंसरी सिस्टम में गड़बड़ होने से होता है। मान लो कि आप स्लो मूविंग क्रूज़ शिप पर जा रही हैं, तो आपका ब्रेन आपकी आँखों से कहेगा कि आप बिलकुल मूव नहीं कर रही हैं, लेकिन आपका आपके ब्रेन में सिस्टम और इनर इयर कहेगा, हाँ, हम कर रहे हैं! यह मिसमैच ब्रेन को कंफ्यूज़ करता है और इससे कई तरह के सिम्प्टम्स नज़र आने लगते हैं जैसे चक्कर आना, सिर दुखना, जी मचलना, पसीना आना, ब्लेचिंग, वॉमिटिंग, हाइपरवेंटिलेशन।

xxCQ7VH0ddCe78WAGpAmMCU2BjAss6jNRrTOk0f9QplsIqT0KeajPjhWbvRRN8A72Ooo86HnoozKHZgezIkzzZba96

इन सिम्पटम्स से राहत पाने के लिए आप दवाएं ले सकती हैं। लेकिन अगर आप मोशन सिकनेस पर कंट्रोल करने की कोशिश करना चाहती हैं, तो यहां कुछ टेक्निक्स दी गई हैं।

1. सही सीट चुनें

अगर आपको मोशन सिकनेस की समस्या है तो कार की आगे की सीट, आगे की ओर वाले ट्रेन और प्लेन के विंग्स वाली जगह पर सीट चुने।  नाव की सवारी कर रही हैं, तो अपर डेक पर बैठें।

q1

2. ताज़ी हवा लें

कार की खिड़की को नीचे करने से मोशन सिकनेस की समस्या को कंट्रोल करने में काफी मदद मिल सकती है। ताज़ी हवा मिलने से गाड़ी के अंदर से आने वाली किसी भी तरह की अनप्लीज़ेंट स्मैल कम हो जाती है क्योंकि ये स्मैल कई लोगों के लिए ट्रिगर का काम करती है।

3. ये न खाएं

हैवी, ग्रीसी, स्पाइसी और एसिडिक फूड्स खाने से बचें। ट्रेवल से पहले हैवी फूड लेने से आपका पेट खराब हो सकता है और इनडायजेशन और जी मचलने जैसी परेशानी भी हो सकती है। 

spicy

4. आगे की ओर फेस रखें

पीछे की ओर बैठना यानी आप ट्रेवल के अपोजिट डायरेक्शन में फेस करके बैठना, आपके ब्रेन को यह सोचकर धोखा दे सकता है कि आप पीछे की ओर बढ़ रहे हैं, जो आपकी पहले से ही कंफ्यूज़ सेंसेस को और भी ज़्यादा कंफ्यूज़ कर सकता है। 

pop

5. दूरी पर फोकस करें

जब आप किसी चीज को दूर से देखते हैं, तो वह विंडो के ठीक बाहर फास्ट-मूविंग ऑब्जेक्ट्स के कम्पेरिज़न में ज़्यादा स्टेशनरी दिखती है। इस तरह, ट्रेवल करते समय दूर देखने से आपकी आइज़ और बॉडी के बीच के कंफ्लिक्ट को कम करने में हेल्प मिल सकती है।

6. अदरक हो साथ

अदरक वॉमिटिंग, जी मिचलाना और मोशन सिकनेस का सदियों पुराना ट्रीटमेंट है। मोशन सिकनेस से बचाव के लिए आप ट्रेवल के दौरान ज़िंजर कैंडी, जिंजर टी या कुछ रॉ जिंजर ले सकती हैं।

pEguH8nAlJLOeklSsb4 sQ8g5VR3ZXiwfPR8lJSdPNpJZK4QS8NALCjW8Ezm03yyBRXhrSYoxfDd9vNOVcIjwMv 9YMvwnq5

7. रीडिंग न करें

पीछे की सीट पर बैठकर बुक पढ़ना भी मोशन सिकनेस को ट्रिगर कर सकता है। आपके बॉडी के पास किसी स्टिल ऑब्जेक्ट पर फोकस करने से आपकी आइज़ और इनर इयर्स के बीच क्लैश हो सकता है। आपको ट्रेवल करते समय मोबाइल स्क्रीन भी नहीं देखनी चाहिए।

8. एक्यूप्रेशर

आपके रिस्ट के ठीक नीचे एक्यूपंक्चर जी मचलने की प्रॉब्लम को कम करने में हेल्प कर सकता है। ऐसा करने के लिए, आप रिस्ट के नीचे प्रेस करने के लिए एक हाथ के अंगूठे का इस्तेमाल करें।

nCIy2vEdWz0o0Gqp1RwNunC0vf2WW1BXzd2aFdGGUH7zhMhqeNdT QxAtHa29fgSkjBeyB77JngnYLNycGOHdek 8I6pS5JsRmuTfWn6BefsfbnBBUSphCsNggy3iKAVzgBaLQlpvDMTGR f1Q

चलिए, अब अपने ट्रेवल को ऐसे टेंशन वाला ट्रेवल मत बनाइए। आपको पता है कि आपको मोशन सिकनेस की प्रॉब्लम हो सकती है, तो पहले से ही इससे बचने की तैयार कर लें। ट्रेवल में फन होना चाहिए, इसलिए इन बातों को इग्नोर न करें।

About Author

Sonal Sharma

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.