About Us

Pankhuri is a women’s only community for members to socialize, explore and upskill through live interactive courses, expert chat, and interest-based clubs. Our short video app opens up endless possibilities for women with interests like fashion, beauty, grooming and lifestyle.

We are dedicated to all things beauty, inside and out. From hair and makeup to health and wellness, Pankhuri takes a fresh, no-nonsense approach to help you feel and look your absolute best. We help women find confidence, community and joy through beauty. It is a safe and empowering space that aims to help them lead their best lives. We’re driven by a commitment to improving women’s lives by covering daily breakthroughs in beauty and health, with a focus on story-telling and original reporting.

We are an ambitious, creative and committed community, backed by some of the best investors in the country. We are female-founded and led, and believe passionately in creating an inclusive and welcoming ecosystem for everyone.

अपने रूटीन में शामिल करें डीप ब्रीदिंग, जानिए क्या हैं फायदे

मुझे याद है जब मैं छोटी थी और तब किसी भी बात पर गुस्सा आता था, तो मेरी दादी एक ही बात करती थी, “शांति से बैठ, आठ-दस गहरी साँस और गहरी साँस छोड़!” मुझे लगता था कि वह मुझे ऐसे ही गुस्से से ध्यान दूर करने के लिए कह रही हैं, लेकिन अब समझ आता है कि उनका गहरी साँस लेने और गहरी साँस छोड़ने को लेकर क्या फंडा था! उनका मतलब था कि जो कोई भी स्ट्रेस मैं लिए बैठी हूँ, वह इस “डीप ब्रीदिंग” से दूर हो जाए।

uIdnXXSvzbrOaUa94vO gQcxIzHE4cnGY ypC5HIPPzjCKbsZhq wumy38ubsmeME8trxkiRzotcvRmIjX5pcJnGOj44tuF4H1tUTmtSup

वाकई गहरी साँस लेना, साँस छोड़ना आपकी लाइफस्टाइल में काफी सुधार ला सकता है। रोज़ाना कुछ समय डीप ब्रीदिंग एक्सरसाइज़ से स्ट्रेस कम हो सकता है, आपके माइंड और बॉडी को रिलेक्स करता है और बेहतर नींद में हेल्प मिल सकती है। आपके ओवरऑल हेल्थ के लिए सही ढंग से सांस लेना ज़रूरी है। जबकि इसके फायदे ढेर सारें हैं, मैँ यहां कुछ फायदों के बारे में बता रही हूँ जो कि आप रोज़ाना की लाइफ़ में फील करेंगे।

9vkU0UTHg14hIk8tGyvDQmt9IVgqDMqOPMCnXsWywbQmMMH4iKdoTDyohqOzBOT0aO4tG dAB JcHkfjzlWzlquGazm4U3z8wqHv3XCeX8cGlk7lJkqr88RkBqXeHbhjP5v5SmtLRVwAs2TpWQ

एंग्जाइटी

डीप ब्रीदिंग की प्रैक्टिस एक हैक है जिसे लेकर बहुत सारे एक्सपर्ट्स और साइकोलॉजिस्ट नर्वसनेस और एंग्जाइटी का ट्रीटमेंट करने की बात कहते हैं। डीप ब्रीदिंग से आपका हार्ट रेट धीमा हो जाता है, बॉडी ज़्यादा ऑक्सीजन ले पाती है और ब्रेन को रिलेक्स करती है। यह आपके हार्मोन को भी बैलेंस करता है। यब कोर्टिसोल के लेवल को कम करता है, बॉडी  में एंडोर्फिन रश बढ़ाता है।

KbFALYYp0UVOfqLmzczN2iRH3pvAScNN6oJ3pyUbDi3boOJ37Xyl7Gxdlb6MjQnaHZq e8 cfAxxatt12WOVnI9Qf PDW13xnt6hiHzNTUYSfVxQ2GxBiocTaZXyoGJYADoGc46 Nv NzvvSXA

ब्लड फ्लो इम्प्रूव करता है

जब हम गहरी सांसें लेते हैं, तो डायफ्राम का ऊपर और नीचे की ओर मूवमेंट बॉडी से टॉक्सिन्स को निकालने में हेल्प करता है, जिससे ब्लड फ्लो बेहतर होता है।

पैन कम करता है

पैन को कम करने में डीप ब्रीदिंग काम आ सकती है। जब मसल्स टेंस होती हैं, तो वे आपकी नसों पर प्रेशर बढ़ाती हैं, जिससे पैन बढ़ सकता है। ब्रीदिंग एक्सरसाइज इस साइकिल को तोड़ने में मदद कर सकती हैं। डीप ब्रीदिंग आपके बॉडी को रिलेक्स करेगा है और पैन वाली जगह के आसपास टेंशन रिलीज़ होगा।

nGJAyLJMqYC9XNGAPsMD3wQ RJGUJ QhtHyOcFPagsa1fPxqiBbYvUYC8zFXdb9mZXkKOCi9HopU7kYMbJ5cj4XGDhABUZq JrToukxGZLd2Hd7BLDMfQhv6ct6AReM

इम्यून सिस्टम मजबूत होता है

डीप ब्रीदिंग से फ्रेश ऑक्सीजन लाती है और टॉक्सिन्स और कार्बन डाइऑक्साइड को बाहर निकालती है। जब ब्लड ऑक्सीजन से भरा होता है, तो यह आपके ऑर्गन्स के स्मूथ फंक्शनिंग पर ध्यान देता है, जिसमें इम्यून सिस्टम भी शामिल है। एक क्लीनर, टॉक्सिन-फ्री और हेल्दी ब्लड सप्लाई से इंफेक्शन पैदा करने वाले जर्म्स को दूर भगाने में हेल्प करती है और आपकी इम्यूनिटी को मजबूत करती है। डीप ब्रीदिंग भी एक नेचुरल टॉक्सिन रिलीवर का काम करता है। यह शरीर में विटामिन और न्यूट्रीएंट्स के एब्जॉर्बशन को भी फायदा देता है।

सही पोश्चर के लिए

आप माने या न माने, गलत पोश्चर गलत तरीके से ब्रीद करना है। यकीन न हो तो खुद ट्राई कर देख लीजिए। डीप ब्रीदिंग लेने की कोशिश करें और ध्यान दें कि प्रोसेस के दौरान आपकी बॉडी कैसे सीधी होने लगती है। जब आप अपने लंग्स को हवा से भरते हैं, तो यह ऑटोमैटिकली आपको अपनी स्पाइन सीधा करने के लिए एनकरेज करता है।

तो आप इनहेल-एक्सहेल करें और अपना टेंशन रिलीज़ करें। डीप ब्रीदिंग को अपने मॉर्निंग रूटीन में शामिल करें और फायदों की गारंटी तो है ही। सुबह का समय इस एक्टिविटी के लिए बेस्ट है। फ्रेश एयर में डीप ब्रीदिंग के साथ करें दिन की शुरुआत!

About Author

Sonal Sharma

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *